आज होगा MU में, दो दिवसीय चलने वाली अंतर्राष्ट्रिय सेमिनार का उद्घाटन।

MU: मगध विश्वविद्यालय में आज से दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सेमिनार आयोजित है।

सेमिनार का उद्घाटन बिहार के राज्यपाल सह कुलाधिपति रामनाथ कोविद करेंगे। सेमिनार आयोजन स्थल परीक्षा भवन में विशेष साज-सज्जा के साथ भव्य मंच बनाया गया है।

अतिथियों के स्वागत हेतु विश्वविद्यालय परिसर से लेकर गया कॉलेज तक कई आकर्षक तोरण द्वार बनाए गए हैं। इंडियन इकॉनामी एसोसिएशन व मगध विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में ‘राष्ट्र निर्माण में डा. अम्बेडकर के अंशदानों की प्रसांगिकता’ विषय पर आयोजित इस अंतरराष्ट्रीय सेमिनार में देश-विदेश के लगभग डेढ़ सौ से अधिक ख्यातिलब्ध अर्थशास्त्रियों की सहभागिता रहेगी।

राज्यपाल के आगमन को लेकर गुरुवार को डीएम कुमार रवि व एसएसपी गरिमा मलिक सेमिनार आयोजन स्थल परीक्षा भवन का निरीक्षण किया। डीए व एसएसपी ने विवि के अधिकारियों से महामहिम के आगमन से लेकर मंच पर बैठने वाले लोगों की संख्या, अल्पाहार, हॉल में प्रवेश पाने वालों का पहचान आदि की जानकारी ली।

कुलसचिव ने की अपील

MU के कुलसचिव प्रो. नलीन कुमार शास्त्री ने विश्वविद्यालय के शिक्षक व कर्मचारियों से अंतरराष्ट्रीय सेमिनार में उपस्थित सुनिश्चित कराने की अपील की है। कुलसचिव के हस्ताक्षर से गुरुवार को इस संबंध में एक सूचना जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि इंडियन इकॉनामी एसोसिएशन पव मगध विवि के संयुक्त तत्वावधान में अंतरराष्ट्रीय सेमिनार परीक्षा भवन में आयोजित है। जिसको लेकर राज्यपाल सह कुलाधिपति का पदार्पण विवि परिसर में होगा। यहां यह बता दें कि 14 अप्रैल को विश्वविद्यालय में गुड फ्राइडे व अंबेडकर जयंती का पूर्व से अवकाश घोषित है।

कार्यकाल का समय परिवर्तित

गर्मी को देखते हुए मगध विश्वविद्यालय मुख्यालय, शाखा कार्यालय, स्नातकोत्तर विभागों व अंगीभूत कालेजों के कार्यकाल का समय परिवर्तित कर दिया गया है। शनिवार से कार्यालय का कार्यकाल सुबह सात बजे से दोपहर के 12:30 बजे तक होगा। उक्त आशय की अधिसूचना गुरुवार को कुलसचिव प्रो. नलीन कुमार शास्त्री के हस्ताक्षर से जारी किया गया है।

उद्घाटन के बाद होगा मेमोरियल लेक्चर

दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सेमिनार के उद्घाटन सत्र समाप्त होने के पश्चात एक मेमोरियल लेक्चर होगा। उसके बाद तकनीकी सत्रों का संचालन अगले दिन शुक्रवार को होगा। आयोजन समिति के सदस्य डा. राजेश कुमार ने बताया कि सेमिनार के पांच सत्रों का संचालन दूरस्थ शिक्षा निदेशालय व स्नातकोत्तर बौद्ध अध्ययन विभाग में होगा। पांच सत्रों के उपरांत सेमिनार का समापन सत्र डा. राधा कृष्णन सभागार में आयोजित किया जाएगा।

यहां के अर्थशास्त्री लेंगे भाग

भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गर्वनर डॉ. सी. रंगराजन, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के पूर्व अध्यक्ष प्रो. सुखदेव थोराट के अलावे श्रीलंका, म्यांमार, थाईलैंड, नेपाल सहित विभिन्न प्रदेशों के डेढ़ सौ तथा बिहार, झारखंड, तामिलनाडु, आंधप्रदेश, उड़ीसा, असम, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, उत्तरप्रदेश के अर्थशास्त्री भाग लेने के लिए बोधगया पहुंच चुके हैं।

Be the first to comment on "आज होगा MU में, दो दिवसीय चलने वाली अंतर्राष्ट्रिय सेमिनार का उद्घाटन।"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*