एक ही रात में दो युवतियों की हत्या, इलाका में सनसनी का माहौल

गया जिला के वजीरगंज क्षेत्र में दो अलग-अलग घटनओं में दहेजलोभियों द्वारा दो युवतियों की हत्या करने से इलाके में सनसनी फैल गयी है। वजीरगंज बाजार से सटे पावर हाउस के निकट मंगलवार की देर रात 15 वर्षीय एक बच्ची की हत्या कर दी गयी, तो केनार फतेहपुर पंचायत के बलियारी गांव में दहेज के लिए एक विवाहिता को मार दिया गया। मृतकों के नाम सविता कुमारी (15) और रेणु कुमारी (18) बताया जा रहा है।

आरोप है कि विवाहिता रेणू कुमारी की हत्या तीन लाख रुपये के दहेज के लिए की गयी है। बताया जा रहा है कि रेणू तीन महीने से गर्भवर्ती भी थी। वहीं स्थानीय निवासियों के अनुसार, सविता कुमारी की लाश पावर हाउस के पास मिलने के बाद वजीरगंज पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सविता कुमारी के बारे में बताया जा रहा है कि वह मौला नगर निवासी मुनेश्वर चौधरी की नतिनी थी।
परिजनों ने बताया कि सविता तीन बहनों में मंझली थी। उसके पिता नंदकिशोर चौधरी की कई साल पहले ही मौत हो चुकी है. पिता की मौत के बाद तीनों बहनें नाना के घर में रह रही हैं सविता ने पिछले माह ही ऑटो की रिपेयरिंग करने वाले गांव के ही एक युवक से शादी कर ली थी। वजीरगंज थाने के एएसआइ ने बताया कि ग्रामीणों के मुताबिक घटना के दिन भी पूरे दिन वह उसी युवक के साथ देखी गयी थी, लेकिन दूसरे ही दिन सविता की लाश पावर हाउस के निकट एक चहारदीवारी के भीतर अहले सुबह देखी गयी।
वहीं, बलियारी गांव में रेणु कुमारी की हत्या के मामले में बताया यह जा रहा है कि तीन लाख रुपये की मांग को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया है. रेणु के मायकेवालों के मुताबिक, 17 अप्रैल, 2016 को जहानाबाद जिले के मखदुमपुर प्रखंड स्थित चकढ़ोड़हा निवासी रामप्रवेश विश्वकर्मा की बेटी रेणु की शादी वजीरगंज थाना क्षेत्र के बलियारी निवासी द्वारिका विश्वकर्मा के पुत्र रामबली विश्वकर्मा के साथ हिंदू रीति-रिवाज से हुई थी। शादी के दौरान दूल्हे को तीन लाख रुपये नकद व एक मोटरसाइकिल सहित दहेज के रूप में अन्य सामान भी दिये गये थे। बताया गया है कि शादी के दो-तीन महीने बाद ही रेणु के पति रामबली समेत सास-ससुर एवं ननद ने और तीन लाख रुपये की मांग कर दी। इसे लेकर वे लोग रेणु की पिटाई भी किया करते थे. पता चला है कि रेणु तीन माह की गर्भवती भी थी।
रेणू के परिजनों के मुताबिक, मंगलवार को भी रेणु के साथ मारपीट की गयी थी। यही नहीं, दामाद रामबली मंगलवार को ही ससुराल पहुंचा और अपने ससुर को साथ में लेकर अपने घर को लौटा तथा रुपये की मांग की. इस पर रेणु के पिता ने तत्काल रुपये देने से इनकार कर दिया और दामाद एवं उनके परिवार को समझा-बुझा कर बुधवार की अहले सुबह अपने घर को निकल पड़े। बताया गया है कि रेणु के पिता वजीरगंज फतेहपुर मुख्य सड़क पर भंगोसा मोड़ ही पहुंचे थे कि उनकी बेटी की हत्या कर दिये जाने की सूचना मिली। रेणु के परिजनों ने तुरंत इसकी सूचना वजीरगंज थाने को भी जानकारी दी।

Be the first to comment on "एक ही रात में दो युवतियों की हत्या, इलाका में सनसनी का माहौल"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*