जीरो व निगेटिव मार्क्स वाले को छोड़ सीयूसीईटी 2018 में शामिल कोई भी छात्र ले सकता है नामांकन

जीरो व निगेटिव मार्क्स वाले को छोड़ सीयूसीईटी 2018 में शामिल कोई भी छात्र ले सकता है नामांकन कुल रिक्त सीट की संख्या: 311 (खबर स्रोत:- Tekari Darshan) सीयूसीईटी 2018 की परीक्षा नहीं देने वाले…


गया जंक्शन महिला एसएम के हवाले, बेटियां देखेंगी ट्रेनों का आवागमन।

गया जंक्शन पर दो महिला स्टेशन मास्टरों का योगदान नारी सशक्तीकरण की दिशा में तेजी से बढ़ रहे उस कदम का प्रमाण है, जिसके लिए सरकार “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” के नारे लगा रही है….


टिकारी राज के “देवन मिसिर” पे बनी पहली मगही फ़िल्म जरूर देखें। ट्रेलर देखने के लिए क्लिक करें

अब मगध क्षेत्र वासियों का इंतजार खत्म 27 जुलाई को आ रही है “देवन मिसिर” मगही फिल्म आपके नजदीकी सिनेमाघरों में यह फिल्म बिहार और झारखंड में एक साथ रिलीज होने वाली है यह फिल्म…


कहानी टिकारी राज का प्रथम राजा:- राजा वीर सिंह की…

(source:- https://www.facebook.com/tekariraj/) वीर सिंह उर्फ़ धीर सिंह मूलतः उत्तर प्रदेश के निवासी थे. ये धर्मवीर सिंह के नाम से भी जाने जाते थे। यह उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिला के टिकरा, द्रोणटिकार नामक स्थान के भूमिहार…


गया से साइंस में 4, कॉमर्स में 4 और आर्ट्स में 1 छात्र ने बनाया बिहार टॉप-10 में अपना जगह

कल दिनांक 06 जून 2018 को शाम 4:30 – 5:00 बजे के बीच बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा व बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर के संयुक्त कॉन्फ्रेंस में 12वी की तीनों विषयों की नतीजा…


“टिकारी राज की वंशावली” (आभार tekari raj fb page)

टिकारी राज की पहली पीढ़ी ( 1709 सन से 1729 तक ) प्रथम राजा वीर सिंह पिता चौधरी अजब सिंह, राजा वीर सिंह के तीन लड़के हुए राजा त्रिभुवन सिंह, इनकी जन्म 1709 में और…


गया के कुंदन कुमार बने यूथ आइकॉन 2018

जिले के खिजरसराय ब्लॉक के शिवनगर गाँव के रहने वाले कुंदन कुमार को देश की प्रतिष्ठित संस्था “नेशनल ह्यूमन वेलफेयर कॉउन्सिल” द्वारा युथ आइकॉन 2018 अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. जिसका आयोजन हरियाणा के गुरुग्राम…


हास्यमेव जयते : मजदूर को सपने कहा आते… #मजदूर_दिवश

क्या कहा आपने मजदूर अपने सपने की आहूति देता है तब जाकर अन्य लोगों के सपने पूरे होते है. सरकार गुस्ताखी माफ करें. मजदूर वो होता है जो मजे से दूर होता हैै. आमतौर पर…


जाने जब घड़ी की अविष्कार नही हुई थी, तब सूर्य-घड़ी से समय जानते थे लोग..

जरा सोचिए हजारों साल पहले जब घड़ी नाम के उपकरण का अविष्कार नही हुआ था तब लोग समय कैसे समय का पता लगाते होंगे! पहले के लोग दिन के समय आसमान में सूर्य की स्थिति…


गया जिलाधिकारी ने जाना टिकारी किला का इतिहास! आप भी जाने…

गया शहर स्थित ऐतिहासिक व पुरातत्व विभाग द्वारा संरक्षित टिकारी किला का भ्रमण डीएम ने किया।  डीएम ने किला के इतिहास को जाना। डीएम ने किला की जीर्ण-शीर्ण अवस्था पर वहां के पंडित जी से कई…