बोधगया और गया को आइकोनिक पर्यटन स्थल घोषित किया जाना चाहिए: नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने कहां है कि बोध गया और गया को आइकोनिक पर्यटन स्थल घोषित किया जाना चाहिए इससे बेहतर स्थान और क्या हो सकता है यह ज्ञान और मोक्ष की भूमि है गया में पितृपक्ष के मौके पर लाखों पर्यटक आते है।

मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार गुरुवार को बोधगया के कालचक्र मैदान में तीन दिवसीय बौद्ध महोत्सव का शुभारंभ करने के बाद संबोधित कर रहे थे.

दरअसल बजट के दौरान 10 स्थानों को आइकोनिक पर्यटन स्थल घोषित किए जाने की घोषणा हुई है.

इस मौके पर सीएम ने कहा कि भगवान बुद्ध का संदेश प्रेम और सद्भाव का है. उनकी सोच अतिवादी नहीं हो रही है भगवान बुद्ध तो मध्यमार्गी रहे हैं. इसके बाद भी कोई यह हमला करने की कैसे सोच सकता है.यह समझ से परे है. राज्य और केंद्र की जांच एजेंसी इसे देख रही है दोषियों को सजा दिलाई जाएगी इस मौके पर सीएम ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत 145 करोड़ की लागत से बनने वाले सांस्कृतिक केंद्र का रिमोट से शिलान्यास किया.

Facebook Comments

Be the first to comment on "बोधगया और गया को आइकोनिक पर्यटन स्थल घोषित किया जाना चाहिए: नीतीश"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*